काम की खबरपशुपालनस्वास्थ्य

गाय-भैंस के दूध में फैट कैसे बढ़ाएं? यहां जानें, दूध बढ़ाने का तरीका

द रुरल इंडिया के इस लेख में जानें- गाय और भैंस के दूध में फैट और एसएनएफ कैसे बढ़ाएं? (How to increase fat in cow and buffalo milk?)

How to increase fat in cow and buffalo milk (गाय-भैंस का दूध कैसे बढ़ाएं): पशुओं के दूध में वसा की मात्रा पशुओं के नस्ल एवं खान-पान पर निर्भर करता है। फिर भी आप पशुओं की उचित देखभाल और संतुलित देकर दुधारू पशुओं के दूध में फैट (Fat) और एसएनएफ (SNF) की मात्रा बढ़ा सकते हैं। 

तो आइए, द रुरल इंडिया के इस लेख में जानें- गाय और भैंस के दूध में फैट और एसएनएफ कैसे बढ़ाएं? (How to increase fat in cow and buffalo milk?)

आपको बता दें, दूध में वसा(fat) की मात्रा बढ़ाने के लिए पशुओं को पौष्टिक आहार (nutritious food) देना बेहद जरूरी है। यदि आप भी पशुपालन करते हैं तो पशुओं के दूध में वसा और एसएनएफ (SNF) की मात्रा बढ़ाने के लिए दिए जाने वाले आहार एवं अन्य उपायों की जानकारी यहां से प्राप्त करें।

दूध में वसा और एसएनएफ की मात्रा बढ़ाने के तरीके

  • दुधारू पशुओं को संतुलित आहार दें।
  • गाभिन पशुओं की नाद कभी भी खाली नहीं रहनी चाहिए। 
  • पशुओं को जब भी भूख लगे तब उनके सामने हरा एवं सूखा चारा होना चाहिए।
  • कई बार हरा चारा नहीं मिलने पर पशुपालक पशुओं को दिए जाने वाले आहार में पानी मिला देते हैं। 
  • इसके सेवन से पशु जुगाली कम करते हैं और उनके दूध में वसा की मात्रा कम हो जाती है।
  • पशुओं के आहार में ऊर्जा, वसा एवं प्रोटीन की मात्रा शामिल करें।
  • पशुओं की खुराक में अचानक परिवर्तन नहीं करना चाहिए।
  • पशुओं को दिए जाने वाले आहार के आकार पर भी विशेष ध्यान दें। 
  • एक इंच से कम आकार का चारा खिलाने पर पशुओं के दूध में वसा की कमी हो जाती है।

पशुओं के आहार में क्या शामिल करें?

  • पशुओं के अच्छे स्वास्थ्य और दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के लिए उनके आहार में पौष्टिक आहार शामिल करें।
  • इससे पशुओं की पाचन क्रिया मजबूत होती है और दुग्ध उत्पादन की क्षमता में भी बढ़ोतरी होती है।
  • इसके साथ ही पशुओं को उनके आहार के साथ प्रति दिन 50 ग्राम कैल्शियम भी दें।
  • कैल्शियम के सेवन के कई फायदे हैं। इससे पशुओं का स्वस्थ्य सही रहता है। 
  • साथ ही पशुओं के पाचन शक्ति एवं प्रजनन क्षमता में भी वृद्धि होती है।
  • पौष्टिक आहार के सेवन से पशुओं के दूध में वसा की मात्रा में भी बढ़ोतरी होती है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button