काम की खबरग्रामीण उद्योगबिजनेस आइडिया

धागा बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें? | thread making business in hindi

आइए, द रूरल इंडिया के इस ब्लॉग में जानते हैं- धागा बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें? (Dhaga Making Business)

Dhaga Making Business Plan in Hindi: कपड़ा चाहे कैसा भी हो, बिना धागे के उसकी सिलाई नहीं जा सकती है। तो पहना कैसे जा सकता है। धागा एक ऐसी चीज है जिसकी मांग दिनोंदिन बाजार में बढ़ रही है। धागा बनाने का बिजनेस आप शहर और गांव दोनों जगह आसानी से कर सकते हैं। आप बाजार में बढ़ती मांग को देखते हुए समझ सकते हैं। कि धागा बनाने का बिजनेस (thread making business) काफी आसानी से आगे बढ़ने वाला बिजनेस है।

 

तो आइए, द रूरल इंडिया के इस ब्लॉग में जानते हैं- धागा बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें? (Dhaga Making Business)

 

आप इस ब्लॉग में जानेंगे-

  • धागे का बिजनेस कैसे शुरू करें
  •  धागा का बिजनेस शुरू करने के लिए जगह का चुनाव
  • धागे के बिजनेस में लगने वाले कच्चे माल
  • धागे की रील बनाने में इस्तेमाल होने वाली मशीनें
  • धागा बनाने की प्रक्रिया
  •  धागा का बिजनेस शुरू करने के लिए जरूरी रजिस्ट्रेशन
  • धागे के बिजनेस में लागत और मुनाफा

 

धागे का बिजनेस कैसे शुरू करें (How to start thread making business in hindi?)

धागे का बिजनेस (thread making business)  शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले जगह की व्यवस्था कर लेनी चाहिए। उसके बाद आपको धागे में इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल कहां से लेने हैं इसका भी पता लगा लेना चाहिए। धागा बनाने में इस्तेमाल होने वाली मशीनें खरीद लेनी चाहिए। उसके बाद आपको धागे के बिजनेस की ओर आगे बढ़ना चाहिए।

 

धागा का बिजनेस शुरू करने के लिए जगह

शुरुआती दौर में आपको धागे के बिजनेस (thread making business) के लिए बहुत ज्यादा जगह की जरूरत नहीं पड़ेगी। आप चाहे तो एक कमरे जितने बड़े जगह में भी या काम कर सकते हैं। धागे बनाने का काम आप गांव में कर सकते हैं। अपने या अपने घर में कर सकते लेकिन अगर धागा बनाकर आप खुद बेचना चाहते हैं तो उसके लिए आपको दुकान खोलने होगी। ध्यान रहे कि दुकान कहीं सड़क पर ही हो।

 

धागे के बिजनेस में लगने वाले कच्चे माल

आपको बाजार में धागे कई प्रकार के देखने को मिलते होंगे। तो आप जिस तरह के धागे रखना चाहते हैं। आपको उसके कच्चे माल की व्यवस्था करनी होगी। 

जैसे- जरी धागा, रेशम का धागा, प्लास्टिक धागा, सुती धागा आदि आसानी से मिल जाता है। अब आपको यह सोचना है कि आप कौन से धागे को बनाने का व्यवसाय शुरू करने वाले हैं। फिर भी आगे जानते हैं, कि आपको किन किन प्रकार के कच्चा माल की आवश्यकता पड़ सकती है।

  • स्टैटलर फाइबर 
  • सूत या फिर रेशम 
  • सिंथेटिक फाइबर 

 

धागा का रिल बनाने में इस्तेमाल  होने वाली मशीनें

  • थ्रेड मेकिंग मशीन
  • थ्रेड रोलिंग मशीन
  • रील बनाने की मशीन

 

धागे के प्रकार

  • सूती
  • पॉलीमर
  • रेशमी धागे
  • नायलॉन

धागा बनाने की प्रक्रिया (thread making process)

धागा बनाने के लिए आपको किसी तरह के विशेष योग्यता या डिग्री की आवश्यकता नहीं है। आप चाहे तो खुद और अपने परिवार के सदस्यों की मदद से धागा बनाने का काम शुरू कर सकते हैं। कुछ इस तरह से आप धागा बनाने का काम कर सकते हैं।

  • सबसे पहले थ्रेड मेकिंग मशीन में कच्चा माल डाल दें।
  • कच्चा माल से धागा बनने के बाद धागे कोरोनावायरस में फिट कर दें कर दें।
  • उसके बाद या धागा और रील में रोल होकर तैयार हो जाएगा।

वैसे सभी मशीनें ऑटोमैटिक जुड़ी होती हैं आपको एक बार कच्चा माल डालने के बाद ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। धागा बनने के बाद आपको पैकिंग की व्यवस्था करनी होगी कि आप को किस तरह से पैक करके मार्केट में बेचना है उसके लिए आपको काम करना होगा।

 

धागा बिजनेस के लिए जरूरी रजिस्ट्रेशन (Required registration for thread business)

अगर आप धागे बनाने का बिजनेस (thread making business) छोटे स्तर पर करते हैं तो आपको रजिस्ट्रेशन करवाने की कोई जरूरत नहीं है। लेकिन किसी भी बिजनेस को बड़े पैमाने पर कानूनी तौर पर चलाने के लिए आपको कुछ आवश्यक रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस की आवश्यकता होती है। तो अगर आप धागे का बिजनेस (Dhaga Making Business) बड़े पैमाने पर करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको नजदीकी उद्योग विभाग में रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। साथ ही आपको जीएसटी रजिस्ट्रेशन भी कराना होगा।

 

धागा बनाने के बिजनेस में लागत (cost of yarn making business)

अगर धागा का बिजनेस (thread making business) शुरू करने के लिए लागत की बात करें तो यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप किस तरह से काम करना चाहते हैं। अगर आप ऑटोमेटिक थ्रेड मेकिंग मशीन बड़ी लेना चाहते हैं। तो आपको इसके लिए लगभग 5 से 6 लाख रुपए की आवश्यकता होगी। इसके लिए आपको कुछ खर्चा अलग से भी करने होंगे। अगर छोटे पैमाने पर या बिजनेस करना चाहते हैं तो आप अपने बजट के अनुसार या बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

 

धागा बनाने के बिजनेस में मुनाफा (profit in thread making business)

धागे की आजकल जरूरत इतनी हो गई है कि धागे की मांग कभी भी बंद नहीं हो सकती है। भले ही शुरुआती दौर में थोड़ा कम मुनाफा हो सकता है लेकिन जैसे-जैसे इस बिजनेस में आगे बढ़ते जाएंगे। वैसे ही आपके हिजाब मुनाफे में इजाफा भी होता जाएगा। 

Related Articles

Back to top button