काम की खबरसरकारी योजना

ड्रोन खरीदने के लिए 50% की सब्सिडी देगी सरकार, जानें प्रक्रिया

भारत सरकार ने खेती में ड्रोन के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए ड्रोन (drones) पर 50% की सब्सिडी (50% subsidy on drones) देने का फैसला किया है।

Subsidy On Drones: किसानों को ड्रोन खरीदने के लिए 50 प्रतिशत की सब्सिडी, आधुनिक खेती को मिलेगा बढ़ावा

subsidy on drones: भारत सरकार ने आधुनिक खेती में ड्रोन (Drones) के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए एक अहम फैसला किया है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Agriculture Minister Narendra Singh Tomar) के अनुसार, सरकार किसानों को अधिक से अधिक सुविधा प्रदान करने और किसानों की आय बढ़ाने के लिए किसानों को ड्रोन खरीदने के लिए 50 प्रतिशत सब्सिडी (50% subsidy on drones) दी जाएगी। इसके लिए ड्रोन खरीदने में विभिन्न वर्गों को छूट भी प्रदान की जाएगी। 

ड्रोन खरीदने में मोदी सरकार द्वारा अनुसूचित जाति / जनजाति, लघु और सीमांत, महिलाओं एवं पूर्वोत्तर राज्यों के किसानों के लिए, ड्रोन लागत का 50% अथवा अधिकतम 5 लाख रुपये और अन्य किसानों को 40% अथवा अधिकतम 4 लाख रुपये की वित्तीय सहायता दी जा रही है… pic.twitter.com/F2QrcHvRGm

— Narendra Singh Tomar (@nstomar) May 3, 2022

आपको बता दें, इसके जनजाति, अनुसूचित जनजाति, महिला किसान, पूर्वोत्तर के किसानों और छोटे एवं सीमांत किसानों को ड्रोन खरीदने के लिए कुल लागत (10 लाख) का 50 प्रतिशत यानी 5 लाख रुपए की सब्सिडी देगी। वहीं अन्य किसानों को 40 प्रतिशत या अधिकतम 4 लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता दी जाएगी। 

एफपीओ (FPO) जुड़े किसानों को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए उन्हें 75 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जाएगी। इसके अलावा भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के संस्थानों, प्रशिक्षण केंद्रों, फार्म मशीनरी ट्रेनिंग सेंटर, राज्य कृषि विश्वविद्यालय और कृषि विज्ञान केंद्रों को ड्रोन खरीदने के लिए 100 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जाएगी। जबकि कस्टम हायरिंग सेंटर को ड्रोन खरीदने के लिए 40 प्रतिशत यानी 4 लाख रुपए का अनुदान दिया जाएगा। 

खेती में ड्रोन के उपयोग से लाभ (Benefits of using drones in agriculture)

  • ड्रोन का उपयोग होने से कम समय में अधिक क्षेत्र में उर्वरकों और दवाओं का छिड़काव किया जा सकेगा। 
  • ड्रोन के उपयोग से किसानों को समय की बचत होगी और जल्दी ही रोग पर निदान पाया जा सकेगा। 
  • इससे किसानों को मेहनत कम लगेगा और दवाओं का छिड़काव भी एक समान हो सकेगा। 

ड्रोन खरीदने के लिए सब्सिडी और अधिक जानकारी के लिए (subsidy for drones) अपने नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्रों अथवा कृषि विभाग से संपर्क कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button