काम की खबरबिजनेस आइडिया

महिलाओं के लिए टॉप 5 बिजनेस आइडिया | Business Ideas for Women

आइए, इस ब्लॉग में महिलाओं के लिए टॉप 5 बिजनेस आइडिया (5 Best Business Ideas for Women) को जानते हैं। 

Business Ideas for Women: भारत की महिलाएं, आज पुरूषों के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चल रही हैं। 21वीं सदी में महिलाएं हर क्षेत्र में अपना नाम रोशन किया है। फिर भी कुछ ऐसे बिजनेस (Business Ideas for Women) हैं जिसे महिलाएं बहुत अच्छा कर सकती हैं। आज हम इस ब्लॉग में महिलाओं के लिए 5 बेस्ट बिजनेस आइडिया (5 Best Business Ideas for Women) बता रहे हैं। जिसको करके वे अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को और भी मजबूत कर सकती हैं। 

तो आइए, इस ब्लॉग में महिलाओं के लिए टॉप 5 बिजनेस आइडिया (5 Best Business Ideas for Women) को जानते हैं। 

1. आभूषण निर्माण का व्यवसाय (jewelry manufacturing business)

आभूषण महिलाओं को बेहद पसंद होता है। इस व्यवसाय में रचनात्मक लोगों के लिए बहुत ही ज्यादा स्कोप है। इसे आप कम लागत में छोटे स्तर पर भी शुरू कर सकते हैं। ज्वैलरी का बिजनेस दो तरह का हो सकता है- फाइन या कॉस्ट्यूम। आकर्षक आभूषण आमतौर पर कीमती या कम कीमती धातुओं, रत्नों और पत्थरों से बने होते हैं। कॉस्टयूम या फैशन ज्वेलरी सस्ती सामग्री और धातुओं जैसे मोतियों, धातु, तारों आदि से बनाई जा सकती हैं। यदि आप जौहरी के परिवार से नहीं आते हैं, तो आपको कुछ प्रशिक्षण प्राप्त करना होगा, क्योंकि आभूषण बनाना एक विशेष कला है। आप किसी संस्थान में जा सकते हैं, या ऑनलाइन सीख सकते हैं। 

आभूषण निर्माण का व्यवसाय (jewelry manufacturing business) के लिए आपको एक अच्छे वर्क टेबल की आवश्यकता होगी। स्टोन सेटिंग, सोल्डरिंग, फैब्रिकेशन और रिपेयरिंग के लिए पिन की आवश्यकता होती है। आपके पास धातु को पिघलाने और काटने के लिए उपकरण होने चाहिए। अपने उत्पाद को बेचने के लिए आप अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसे ऑनलाइन स्टोर की मदद ले सकते हैं। 

2. लेदर बैग मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस (leather bag manufacturing business)

चमड़े के सामानों की भारत के साथ-साथ अमेरिका, जापान और ब्रिटेन जैसे अन्य देशों में बहुत बड़ी मांग है। आप महिलाओं के वैनिटी बैग, पर्स, वॉलेट आदि जैसे विभिन्न सामान बना सकते हैं। इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए लगभग 3,000 वर्ग फुट का एरिया पर्याप्त होगा। लेदर बैग मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस को लगभग 15-20 लाख रुपए में शुरू कर सकते हैं। निवेश का बड़ा हिस्सा बॉल प्रेस मशीन, सिलाई मशीन, बोर्ड कटिंग मशीन, ग्लेज़िंग मशीन, आदि जैसी मशीनरी में खर्च करना पड़ सकता है। इनके अलावा आपको अन्य उपकरणों की आवश्यकता होगी जैसे मिनी कंप्रेसर, जिंक ब्लॉक डिजाइनिंग और एम्बॉसिंग के लिए और धोने के लिए एक लकड़ी का बर्तन। थैलों के लिए कच्चे माल में बकरी का चमड़ा, रेशम और सूती अस्तर का कपड़ा, धागे और चिपकने वाले पदार्थ शामिल हैं।

लेदर बैग मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस (leather bag manufacturing business) को चलाने के लिए आपको कुशल श्रमिकों की आवश्यकता होगी। आप ऐसे उत्पाद बना सकते हैं जो ट्रेंडी और हाई-फ़ैशन बाज़ार के ज़रूरतों को पूरा कर सकें। 

3. हर्बल हेयर ऑयल का बिजनेस (herbal hair oil business)

महिलाओं के लिए कई बिजनेस आइडिया पारंपरिक नुस्खों से निकलते हैं। इन्हीं में से एक है हर्बल हेयर ऑयल का बिजनेस। समय से पहले बालों के सफेद होने से लेकर गिरने तक बालों की बीमारियों को ठीक करने के लिए इनकी बहुत मांग है। इसे घर पर बनाना आसान है और इसमें मिक्सिंग, फिल्ट्रेशन और पैकिंग जैसे काम शामिल होते हैं। हर्बल हेयर ऑयल उत्पादन के लिए आपको निम्नलिखित मशीनरी की आवश्यकता होगी। 

  • मिक्सर मशीन
  • ऑयल
  • आयुर्वेदिक जड़ी-बुटियां
  • फ़िल्टरिंग मशीन
  • बॉटलिंग और सीलिंग मशीन
  • परीक्षण उपकरण।
  • पैकेजिंग के बोतल, रैपर और बॉक्स 

इन मशीनरी और कच्चे माल की कुल कीमत लगभग 5 से 8 लाख रुपए तक हो सकती है। हालांकि सामग्री अलग-अलग होती है, नारियल या अरंडी का तेल आमतौर पर आंवला, ब्राह्मी, मेंहदी, तुलसी, सरसों के बीज, आदि जैसे अन्य कच्चे माल के रूप में उपयोग किया जाता है। इन सभी को एक कंटेनर या टैंक में गर्म किया जाता है। 15 से 20 मिनट के बाद मिश्रण को छानकर ठंडा होने के लिए रखा जाता है। तैयार हेयर ऑयल को फिर एयर-टाइट जार या बोतलों में स्टोर किया जाता है। फिर आप इस तेल को छोटी बोतलों में स्थानांतरित कर सकते हैं, अपने स्वयं के लेबल लगा सकते हैं और उन्हें सील कर सकते हैं। आप अपने हर्बल हेयर ऑयल बिजनेस (herbal hair oil business) को बढ़ावा देने के लिए एक वेबसाइट बना सकते हैं या सोशल मीडिया का उपयोग कर अच्छी आमदनी कर सकते हैं।

4. आलू के चिप्स बनाने का बिजनेस (potato chips business)

आलू के चिप्स दुनिया में सबसे ज्यादा खाया जाने वाला स्नैकिंग आइटम है। आलू के चिप्स बिजनेस में 50 प्रतिशत तक मुनाफा होता है। आलू के चिप्स बनाने का बिजनेस (potato chips business) एक कम निवेश, उच्च लाभ वाला व्यवसाय है जिसे आप अपने घर पर कर सकते हैं। चिप्स के अलावा आप छोटे पैमाने पर आलू वेफर्स, फ्रेंच फ्राइज़ और अन्य स्नैक्स भी बना सकते हैं। इस व्यवसाय में सफलता की कुंजी अच्छा स्वाद और उच्च गुणवत्ता है। इस बिजनेस के लिए कच्चे माल के लिए आलू और तलने का तेल की जरूरत होती है।  इसके अलावा आपको नमक, काली मिर्च या मिर्च पाउडर और कुछ अन्य मसालों की आवश्यकता होगी। आप इसमें स्पेशल फ्लेवर जैसे बटर, टैंगी आदि मिला सकते हैं।

छोटे स्तर पर आलू के चिप्स (potato chips) बनाने के लिए आप करीब 40,000 रुपए में डीप फ्राइंग मशीन खरीद सकते हैं। आपको इसके अलावा अन्य मशीनों की आवश्यकता होगी, वे हैं- एक वाशिंग मशीन, आलू छीलने की मशीन, एक स्लाइसर मशीन, एक ड्रायर मशीन, आदि। आलू को धोने के बाद, उन्हें छीलकर अलग-अलग आकार में काटा जाता है। ड्रायर द्वारा कटे हुए आलू की नमी को हटाने के बाद, उन्हें 170-190 डिग्री सेल्सियस पर तेल में तला जाता है। इस अवस्था में नमक और अन्य स्वाद मिलाए जाते हैं। आपको इन्हें सीलिंग मशीन की मदद से छोटे-छोटे पाउच में पैककर माल सप्लाई कर सकते हैं। 

5. मोमबत्ती बनाने का बिजनेस (candle making business)

मोमबत्ती बिजनेस (candle making business) के लिए बहुत अधिक जगह की आवश्यकता नहीं होती है। इसे आप अपने घर से ही शुरू कर सकते हैं। मोमबत्तियाँ को महिलाएं घर पर आराम से बना सकती हैं। इसे आप विभिन्न आकारों जैसे लंबा, गोल या चौकोर आकार में बना सकते हैं। इसलिए, मोमबत्ती बनाने का काम एक गृहिणी के लिए एक अच्छा बिजनेस आइडिया है।

मोमबत्तियां बनाने के लिए आपको जिस मुख्य सामग्री की आवश्यकता होती है वो है पैराफिन वैक्स है। दूसरी चीज डाई या मोल्ड है जो मोमबत्तियों को आकार देने के लिए जरूरी है। पैराफिन मोम को पिघलाकर इन सांचों में डाला जाता है। यदि आप सुगंधित या रंगीन मोमबत्तियां बनाना चाहते हैं, तो आपको सुगंधित तेल और रंग भरने वाले सामाग्रियों की जरूरत होगी। आप फेसबुक, इंस्टाग्राम या यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग करके इन मोमबत्तियों की मार्केटिंग कर सकते हैं। 

यदि आप इन बिजनेस (Manufacturing Business) को करना चाहती हैं तो सरकार महिला उद्यमियों के लिए कम ब्याज दर पर कर्ज और अनुदान भी देती है। MSME (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) मंत्रालय के लिए महिलाओं के लिए कई योजनाएं चलाई जाती है। इन योजना का लाभ लेने के लिए आप नजदीकी बैंक या जिला उद्योग विभाग से संपर्क कर सकती हैं।  

संक्षेप में कहें तो आज के समय में ऐसे कई अवसर (Business Ideas for Women) हैं जहां महिलाएं अपने लिए अवसर तलाश सकती हैं। डिजिटल युग में वे अपने काम को ऑनलाइन भी कर सकती हैं। 

ये तो थी, महिलाओं के लिए टॉप 5 बिजनेस आइडिया (5 Business Ideas for Women) की बात। ऐसे ही बिजनेस आइडिया और ग्रामीण विकास की ब्लॉग पढ़ने के लिए आज ही द रूरल इंडिया वेबसाइट विजिट करें। 

Related Articles

Back to top button